Sad Mood Off Shayari, Naa Koi Waade Naa Koi Sikayat

Sad Shayari mood off

Sad Shayari Mood Off

कभी गैरों मे तो कभी अपनो मे नजर आया
हर सक्स मे इश्क करने का जुनून नजर आया
ना कोई वादे ना कोई सिकायत थी हमसें
फिर भी मतलब के बाद हर कोई दूर नजर आया
Kabhi Gairo Me To Kabhi Apno Me Nazar Aaya
Har Saks Me Ishq Karne Ka Junoon Nazar Aaya
Naa Koi Waade Naa Koi Sikayat Thi Humse
Fir Bhi Matlab Ke Baad Har Koi Door Nazar Aaya

हम हर दर्द को उनसें छुपाते रहे
वो बेवजह हम पर इल्जाम लगाते रहे
ना प्यार ना मोहब्बत थी हमसें
बस हमें झुठे वादों मे उलझाते रहे
Hum Har Dard Ko Unse Chhupate Rahe
Vo Bevajah Hum Par Ilzam Lagate Rahe
Naa Pyar Naa Mohobbat Thi Humse
Bas Hume Jhute Waado Me Uljhate Rahe

ना कोई किस्सा हैं ना कोई कहानी मेरी
बस गुजर रही हैं यूहीं जवानी मेरी
वो मिल जाये तो हो जाये हर दर्द फना
वरना पत्थरों सी हैं जिन्दगानी मेरी
Naa Koi Kissa Hai Naa Koi Kahani Meri
Bas Guzar Rahi Hai Yuhi Jawani Meri
Vo Mil Jaye To Ho Jaye Har Dard Fana
Varna Pathro Si Hai Jindgani Meri

हमनें ना कभी की उनसे कोई फरमाइश
फिर भी देकर चले गये प्यार में रूशवाई
वो दिल तोड के कर गये जिन्दगी तबाह
बस इतनी सी थी उनकी हमसे बेवफाई
Humne Na Kanhi Ki Unse Koi Khawaish
Fir Bhi Dekar Chale Gye Pyar Me Rushwai
Vo Dil Tod Ke Kar Gye Zindagi Tabah
Bas Itni Si Thi Unki Humse Bewafai

ना कोई तस्स्वुर हैं ना ठिकाना अपना
हर जाम ऐ पैमाना बना हैं  अपना
तू कहे तो जिन्दगी कर दूं तबाह, नहीं तो
जिन्दगी भर साथ निभाने का हैं सपना
Na Koi Tassavur H Na Thikana Apna
Har Jam e Paimana Bna Hai Apna
Tu Kahe To Zindagi Kar Du Tabah, Nhi To
Zindagi Bhar Sath Nibhane Ka Hai Sapna

More Sad Shayari

Sadness Shayari

Dard Shayari

Love Shayari